खतरनाक Mobile RADIATION से बचने के खास 7 उपाय - Help4u

Monday, 11 February 2019

खतरनाक Mobile RADIATION से बचने के खास 7 उपाय


खतरनाक Mobile RADIATION से बचने के खास 7 उपाय


आज के इस युग में सिर्फ बड़े और बुढ़े ही नहीं बल्कि छोटे-छोटे बच्चे भी  MOBILE को अपना बेस्ट-फ्रेंड समझते हैं। छोटे इंसान से लेकर बड़े इंसान तक सभी  MOBILE से चुंबक की तरह जुड़े हैं। कई लोगों को तो सुबह उठने से लेकर रात को सोते समय तक  MOBILE पर ही बने रहना अच्छा लगता है।  MOBILE से जहां लोग अपनों से दूर रहकर भी दूर महसूस नहीं करते वहीं इंसानों की ज़िंदगी में दखल देने वाला यह  MOBILE फोन एक गंभीर समस्या का कारण भी बन चुका है।
खतरनाक Mobile RADIATION से बचने के खास 7 उपाय

आप यह तो जानते होंगे कि  MOBILE फोन से निकलने वाले RADIATION से कमजोर याददाश्त, दिल की बीमारियां, ब्रेस्ट कैंसर, फेफड़ों का कैंसर और ब्रेन ट्यूमर जैसी खतरनाक बीमारियां हो सकती हैं।

Alos Read:-

Mobile RADIATION  से  इससे बचने के 7 खास उपाय – 


SPEAKER OR EARPHONE का इस्तेमाल करें : ईयरफोन या स्पीकर सिर्फ गाना सुनने के ही प्रयोग में नहीं आते हैं बल्कि इससे आप किसी से फोन पर बात भी करें तो आप कई बीमारियों को खुद से दूर रख सकते हैं। फोन को सीधे कान पर लगा कर बात करने से बेहतर है SPEAKER OR EARPHONE का इस्तेमाल करें।

फोन जितना दूर रहे उतना अच्छा : अगर CALL पर बात नहीं कर रहे हैं तो फोन को शरीर के बहुत पास न रखें। फोन जितना दूर रहेगा उतना कम RADIATION आपके शरीर तक पहुंचेगा।

मैसेज ऐप्स का प्रयोग करें : फोन पर CALL कर के बात करने के बजाए मैसेज कर के बात करना बेहतर है। CALL पर बात करते वक्त ज्यादा RADIATION निकलता है। आज Whatsapp जैसे अनेक MESSAGING APP  उपलब्ध हैं जिनका प्रयोग करके आप फोन पर ज्यादा बात करने से बच सकते हैं।

कम RADIATION वाला फोन खरीदें :  MOBILE फोन से लोगों पर हो रहे बुरे प्रभाव को देखते हुए भारत सरकार ने तय किया भारत में बिकने वाले  MOBILE फोन का Specific Absorption रेट वाला  MOBILE फोन ही प्रयोग करें।

MOBILE सिग्नल पर ध्यान दें : CALL तब करें जब सिग्नल अच्छे आ रहे हों क्योंकि कम सिग्लन मिलने पर फोन को नेटवर्क ढूंढने के लिए ज्यादा जोर लगाना पड़ता है और RADIATION की मात्रा बढ़ जाती है।

तकिए के नीचे या पॉकेट में फोन रखने से बचें : अगर CALL पर बात नहीं कर रहे हैं तो फोन को शरीर के बहुत पास न रखें। फोन जितना दूर रहेगा उतना कम RADIATION आपके शरीर तक पहुंचेगा। फोन जब इस्तेमाल में नहीं होता, तब भी उसमें से निकलता हैं। इसलिए फोन को तकिए के नीचे या पॉकेट में न रखें। अगर ऐसा करते भी हैं तो स्विच ऑफ या एयरप्लेन मोड पर रखें।

पुराने फोन को त्याग दें : अगर आपका फोन बहुत पुराना हो गया है तो इसे त्याग दें। जी हां, पुरानी टेक्नोलॉजी वाले फोन को बाय-बाय बोलिए और जल्द ही स्मार्टफोन खरीद लीजिए जिसका स्पेसिफिक एब्जोर्प्शन रेट (Specific Absorption Rate, SAR) 1.6 वाट/किग्रा से कम हो।

No comments:

Post a Comment